बुधवार, 9 जून 2010

भविष्य बहुत उज्ज्वल है, चच्चा !! [एक नेता की कहानी, उसी की जुबानी]

रामलुभाया चच्चा, प्रणाम ।

खुश रहो गुणगोबर, क्या हाल-चाल है? आजकल ना तो दिखाई देते हो, और ना ही सुनाई पड़ते हो, क्या बात है? और तोहरे चेहरा पर ई खुशी टपक रही है, एकर का राज है?

अरे बात-वात कुछो ना है, चच्चा? जब से पिछला पंचायत चुनाव हारा हूं, तबसे खलिहरे चल रहा था, तो सोचा कि समाजसेवा में और आगे बढ़ने के लिए कुछो अऊर टरेनिंग-वरेनिंग ले ली जाए। ऊ का है ना कि लोकसभा और विधानसभा से एके साथ टॉस हारने के बाद अपने घोटालाराज भईया भालू परसाद जी ने एक नया टरेनिंग इस्कूल खोला है, समाजसेवा में कैरियर बनाने वालों के लिए। ई टरेनिंग स्कूल की सबसे बड़ी खासियत है कि ई फुल्ल प्लेसमेंट की गारंटी देता है, एहीसे उहां प्रवेश पाने के लिए बहुते भीड़ लगी हुई है लेकिन हमने थोड़ी तिकड़मबाजी के द्वारा एगो सीट अपने लिए बुक करा लिया है।

अच्छा, कईसे मिला ई सीटवा तोहे?

अब आपसे का छुपाना रामलुभाया चच्चा । भालूए जी के पारटी के एगो समाजसेवक जी को पटाया तब जाके एडमिशन मिला है। उ समाजसेवक जी हमरे फुलेना मामा के जो गेंदा चाचा हैं ना, उनके छोटका सार के लंगोटिया ईयार हैं, त उन्ही का माध्यम से अपनी पहुंच बनी। बहुते बढ़िया आदमी हैं समाजसेवक जी। उ त पचास हजार से कम में किसी का काम नहीं करते हैं, बाकि फुलेना मामा के गेंदा चाचा के छोटका सार के लंगोटिया ईयार होने के कारण हमार काम आधा लेकर ही कर दिया।

एडमिशन पावे खातिर बहुते बधाई गुणगोबर भतीजा!!

धन्यवाद चच्चा ।

अच्छा ई बताव कि एह कोर्स करने से फायदा का है, और ई केतना महीना का कोर्स है?

Pre-School Diploma In Corruption Management (PSDCM) नामक ई कोर्स छः महीना का है, जिसे पढ़ाने के लिए देश-विदेश के विभिन्न भ्रष्टाचार पारंगतों को मोटी फीस देकर बुलाया जा रहा है। बाकिर भालू प्रसाद जी त खुदे अपने-आप में "भ्रष्टाचार शिरोमणि" हैं। उनका चेला होने के कारण बढ़िया पैकेज के साथ कवनो ना कवनो कंपनी या संगठन में काम मिलिए जाएगा। "सत्यम" वाला के साथे और भी कुछ खास-खास पिराइवेट कंपनिया त अभिए से हमारे टरेनिंग इस्कूलिया में आने लगा है। सरकारी संस्थान भी हमरे इहां के टॉपरों को अपरेंटिंस कराने के लिए राजी हो गए हैं। चच्चा ढेर नाहीं बोलुंगा, बस एतना समझ लीजिए कि कोर्स करते-करते हमहुं टॉप कलसिया भ्रष्टाचारी बनिए जाएंगे। भविष्य बहुत उज्ज्वल है, चच्चा !!

[चित्र गूगल महाराज की कृपा से]

8 टिप्‍पणियां:

  1. bahut badiya janaab,

    bahut sahi kahi, humare chachha ne

    http://sanjaykuamr.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  2. आईये जानें … सफ़लता का मूल मंत्र।

    आचार्य जी

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाकई भविष्य उज्जवल है… चच्चा का भी और भतीजे का भी…

    उत्तर देंहटाएं
  4. भाई दिवाकर ब्लागरजी महराज। चच्चा राम लुभाया और गुणगोबर भतीजा के वार्तालाप की सीधा प्रसारण खातिर बहुत-बहुत धन्यवाद। यह लाइव टेलीकास्ट पूरी तरह से आज की नेताओं की कलई खोल रहा है और वास्तविकता को सामने ला रहा है।

    बहुत ही यथार्थ, सामयिक व्यंग्य रचना। साधुवाद स्वीकारे....और अगर कोई पहचान का हो तो हमरो एडमिसनवा करवा दें।।। सदा आभार व्यक्त करता रहूँगा।।

    उत्तर देंहटाएं
  5. नमस्ते,

    आपका बलोग पढकर अच्चा लगा । आपके चिट्ठों को इंडलि में शामिल करने से अन्य कयी चिट्ठाकारों के सम्पर्क में आने की सम्भावना ज़्यादा हैं । एक बार इंडलि देखने से आपको भी यकीन हो जायेगा ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. New Rupee Symbol Design Competition and It's Devastating Effect On Homegrown Design Talent

    http://www.saveindianrupeesymbol.org


    New Indian Rupee Symbol And Times Of India Media Hoax

    http://newindianrupeesymbol.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  7. नमस्कार दिवाकर जी
    वास्तव में भविष्य उज्जवल हे ...................
    http://jaishariram-man.blogspot.com/2010/11/blog-post_11.html...............jaroor पधारे

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणी ही हमारा पुरस्कार है।